होशियार सिंह देहरा की जनता को बताएँ कि अगर विपक्ष में ही बैठना था तो दोबारा चुनाव क्यों करवा रहे।



पूजा सूद, देहरा : मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार इस्तीफ़ा स्वीकार कराने के लिए निर्दलीय विधायकों ने विधानसभा के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि अच्छा होता होशियार सिंह देहरा के विकास के लिए प्रदर्शन पर बैठते लेकिन निजी स्वार्थ के कारण उन्होंने देहरा की जन भावनाओं का सौदा किया और भाजपा की राजनीतिक मंडी में बिक गए।

उन्होंने कहा कि भाजपा के दबाव के चलते ही तीनों निर्दलीय विधायकों ने अपनी विधायकी को छोड़ा है, जो भाजपा के ईमानदार कार्यकर्ताओं को भी रास नहीं आ रहा है। होशियार सिंह देहरा की जनता को बताएँ कि अगर विपक्ष में ही बैठना था तो दोबारा चुनाव क्यों करवा रहे हैं। आज़ाद रहते हुए भी वह भाजपा के साथ बैठ सकते थे लेकिन भाजपा के दबाव में आकर निर्दलीय विधायकों ने उप-चुनाव जनता पर थोपा है। इसलिए जनता निर्दलीय विधायकों को सबक़ सिखाएगी।


ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि यह तीन उपचुनाव ईमानदारी और बेईमानी के बीच लड़ाई है और लोकतंत्र को मजबूत बनाने की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार को कोई ख़तरा नहीं है क्योंकि विधानसभा में कांग्रेस विधायकों की संख्या 38 है। कांग्रेस सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी और पूरे प्रदेश में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित होंगे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार आर्थिक संसाधनों में बढ़ौतरी के लिए भरसक प्रयास कर रही है, जिसके लिए पर्यटन के साथ-साथ ग्रीन एनर्जी के दोहन को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा कि जिला ऊना में राज्य सरकार ने 32 मेगावाट सौर ऊर्जा का दोहन शुरू कर दिया है और घलौर में भी 10 मेगावाट सौर ऊर्जा परियोजना का शिलान्यास किया गया है। यह सभी कदम प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में उठाए जा रहे हैं।

Scroll to Top