खेतों में लगी आग बुझाने गए 80 वर्षीय बुजुर्ग की जल कर हुई मौत



खुंडियां की देहरू पंचायत का रहने वाला था बुजुर्ग




मिलाप कौशल खुंडियां



उपमंडल ज्वालामुखी के तहत तहसील खुंडियां की गांव पंचायत देहरु में एक बुजुर्ग की जलने से मौत हो गई। गांव पंचायत देहरू की प्रधान आशा देवी ने बताया कि उक्त बुजुर्ग जिसका नाम मल्ली राम है तथा उसकी आयु लगभग 78 साल है।यह बुज़ुर्ग बीते दिवस अपने खेतों में लगी आग को बुझाने के गया था। साथ ही बताया कि यह खेत जहां आग लगी हुई थी वो जंगल के नजदीक है तथा जंगल में आग लगने से यह आग उनके खेतों में पहुंच गई। इन्हीं खेतों में इस बुजुर्ग ने अपना एक छोटा सा बगीचा भी तैयार किया था तथा साथ ही एक पौधों की नर्सरी भी थी।

उक्त बुजुर्ग अपने खेतों व नर्सरी में लगी आग को बुझाने के लिए अकेला ही चला गया।आग ज्यादा लगी हुई थी और हवा भी ज्यादा चली हुई थी जैसे ही बुजुर्ग व्यक्ति आग को बुझाने के लिए आगे बढ़ा तो हवा से आग उनकी तरफ तेजी से बढ़ गई जिससे वह बुरी तरह से झुलस गए और खेत के साथ ही गहरी खाई थी उसमें गिर गए जिससे वो पूरी तरह से झुलस गए।

वहीं गांव पंचायत देहरू के उपप्रधान कुंवर सिंह का कहना है कि मल्ली राम भारतीय सेना से सेवानिवृत्त थे तथा इनके तीन बेटे हैं जिसमें बड़े बेटे का निधन हो गया है। एक बेटा अधरंग की बीमारी से ग्रस्त है।यह पूरा परिवार मल्ली राम की पेंशन पर ही आश्रित था। साथ ही बताया कि मल्ली राम को प्राथमिक उपचार के लिए सिविल अस्पताल खुंडियां लाया गया वहां ड्यूटी पर तैनात डाक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें टांडा मेडिकल कालेज को ले जाने को कहा।

परिवार व स्थानीय लोगों ने मिलकर मल्ली राम को अपनी प्राइवेट गाड़ी में डालकर टांडा मेडिकल कालेज में उपचार के लिए ले जाना उचित समझा लेकिन 78 वर्षीय बुजुर्ग अपने घावों की पीढ़ा को सहन नहीं कर सका तथा उसने टांडा मेडिकल कालेज पहुंचने से पहले ही अपना दम तोड दिया।
वहीं थाना प्रभारी खुंडियां रणजीत सिंह ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है कि एक बुजुर्ग की जलने से मौत हो गई है जिसका नाम मल्ली राम सुपुत्र भूरी सिंह आयु 78 वर्ष व गांव पंचायत देहरू के गांव छिड वार्ड नंबर 2 का रहने वाला है। पुलिस ने धारा 174 के तहत मामला दर्ज कर लिया है तथा शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

Scroll to Top