चपलाह में कलश यात्रा के साथ श्रीमद भागवत कथा का शुभारंभ



रक्कड़, 28 मई (पूजा ): तहसील रक्कड़ के अंतर्गत पड़ने वाले गांव चपलाह में कलश यात्रा के साथ श्रीमद भागवत कथा का शुभारंभ हुआ । यह यात्रा चपलाह से शुरु होकर रक्कड़ , कलोहा, मनियाला , कठियाडा,से होते हुए कालेश्वर महादेव में पहुंची। जहां यात्रा में शामिल भक्तों ने पवित्र पंचतीर्थी से अपने कलशों में जल भरा व कालीनाथ भगवान के मन्दिर में शीश झुका कर आशीर्वाद प्राप्त किया ।तद्पश्चात यात्रा कूहना, बसालग, चौली , नरसिंह मंदिर रक्कड़ , स्वस्थानी होते हुए वापिस चपलाह पहुंची।


धरोहर गांव प्रागपुर के पंडित सुमित शास्त्री ने भागवत कथा महात्म्य का वर्णन करते हुए कहा कि कई जन्मों के पुण्य कर्मों के फलस्वरूप ही सत्संग की प्राप्ति होती है । भागवत कथा के समान मृत्युलोक में पापपुंज का नाश करने वाला कोई दूसरा पवित्र साधन नहीं है,इसका श्रवण मन को शांति व जीवन में क्रांति पैदा करता है । मृत्यु को मंगलमय बनाने के लिए हमें भागवत की शरण लेनी चाहिए । शास्त्री ने आगे वर्णन करते हुए बताया कि पांच प्रकार के महापापी मदिरापान, ब्रह्महत्या, सुवर्ण की चोरी गुरु स्त्री गमन व विश्वासघात करने वाले भागवत कथा के श्रवण से पवित्र हों जाते हैं ।


कलश यात्रा के अवसर पर राजेश कुमार,अनुज शर्मा, देसराज,दिनेश शर्मा, पुष्पा देवी, स्वर्णलता,रेखा शर्मा व पूनम ने भाग लिया ।

Scroll to Top