सीएम न हमीरपुर के, न शिमला-देहरा के, सिर्फ मित्रों के: परमार






देहरा, पूजा सूद : कांग्रेस सरकार लगातार प्रदेश की जनता को गुमराह कर रही है। मुख्यमंत्री की हर चुनाव में अलग किस्म की बयानबाजी सामने आती है। शिमला नगर निगम चुनाव में मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं शिमला का हूं और कांग्रेस को जि़ताओ और जब यहां लोकसभा और विधानसभा के चुनाव हमीरपुर में होने लगे हैं, तो कहा कि मैं हमीरपुर का हूं।

जब वह देहरा में अपनी पत्नी को चुनाव लड़वा रहे हैं, तो कह रहे हैं मैं ही देहरा हूं। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू पर तीखा हमला करते हुए देहरा विधानसभा चुनाव क्षेत्र के उपचुनाव प्रभारी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व सुलह विधानसभा क्षेत्र के विधायक विपिन सिंह परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री मौकाप्रस्त राजनीति कर रहे हैं, न वह देहरा के हैं, न हमीरपुर के, न ही शिमला के हैं और न प्रदेश के हैं, वह केवल मित्रों के हैं।

उन्होंने बताया कि अगर मुख्यमंत्री किसी के लिए काम कर रहे हैं, तो सिर्फ मित्रों के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने लगभग अपने 30 मित्रों में किसी को अध्यक्ष किसी को चेयरमैन और किसी को तो कैबिनेट रैंक तक देकर मित्रों की सरकार बना दी।

विपिन परमार ने कहा कि पिछले डेढ़ साल में उन्होंने हमीरपुर के लिए न कोई नई योजना ना कोई नया काम शुरू किया और उल्टा अपनी सरकार में उन्होंने हमीरपुर में चल रही योजनाएं एवं काम बंद करवाने का काम किया, चाहे हमीरपुर का सर्विस सिलेक्शन बोर्ड हो, चाहे वह लबलू का डिग्री कालेज हो, जल शक्ति विभाग की शाखा हो सब बंद कर दिए। यहां तक कि नादौन विधानसभा की जलशक्ति विभाग की शाखा भी बंद करवा दी।

उन्होंने बताया सीएम ने देहरा विधानसभा क्षेत्र से पिछले डेढ़ साल से भेदभाव रखा। देहरा विधानसभा क्षेत्र के सारे विकासात्मक कार्य रोक दिए। अब जब मुख्यमंत्री ने अपनी धर्मपत्नी को कांग्रेस से टिकट दिलवाई तब मुख्यमंत्री को देहरा विधानसभा क्षेत्र पर बहुत प्यार आ रहा है।

देहरा विधानसभा चुनाव क्षेत्र की जनता सब देख रही है, बहुत समझदार है और चुनाव वाली तिथि पर देहरा की जनता भाजपा प्रत्याशी होशियार सिंह को भारी बहुमत से जीताकर प्रदेश में एक बार फिर भाजपा सरकार बनाएगी। भाजपा नेता परमार ने कहा कि प्रदेश में हो रहे तीनों उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी की तीनों सीटें भारी बहुमत से चुनाव जीतने जा रही है। वर्तमान कांग्रेस सरकार अपना विश्वास जनता में खो चुकी है। जनता सरकार को सबक सिखाने के मूड में है।

Scroll to Top