सत्ता के दम पर चुनाव प्रभावित करने के लिए अलग से करवाए गए उपचुनाव: विश्व चक्षु



कहा, ठेकेदारों से सरकार ने चुनाव के नाम पर की भारी वसूली, धमका कर माँग रहे हैं समर्थन

भाजपा का झंडा लगाने पर हज़ारों दुकानों पर छापा मारा गया

पंचायत प्रधानों और बीडीसी डीडीसी मेम्बर को कांग्रेस को लीड न दिलवाने पर कार्रवाई की धमकी

देहरा/धर्मशाला :

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी एडवोकेट विश्व चक्षु ने कहा कि सरकार ने चुनाव के नाम पर ठेकेदारों से भारी वसूली की है, अब कांग्रेस के लिए समर्थन मांग रहे हैं। भाजपा को समर्थन देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दे रहे हैं।

सरकार उपचुनाव जीतने के लिए पूर्णतया तानाशाही पर उतर आई है। भाजपा के समर्थकों को परेशान करने के हर जतन कर रही है। सरकार चाहती है कि कोई भी भारतीय जनता पार्टी को किसी प्रकार का सहयोग और समर्थन न दें।

दुकानों पर भारतीय जनता पार्टी के झंडे लटकाने पर दुकानदारों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्हें पुलिस द्वारा डराया धमकाया जा रहा है। अब तक सिर्फ़ उपचुनाव वाले तीनों विधानसभा क्षेत्रों में हजारों दुकानदारों के यहां इसलिए छापा मारा गया क्योंकि उन्होंने भाजपा का झण्डा अपने दुकानों पर लगाया हुआ था।

इसी तरह से कर्मचारियों को भी निशाना बनाया जा रहा है। कोई भी कर्मचारी भाजपा के पक्ष में कोई बात न कर दे, उस पर नज़र रखी जा रही है। संबंधित विभाग के मंत्रियों द्वारा कर्मचारियों की मॉनीटरिंग करवाई जा रही है और भाजपा का सहयोग न करने की सख़्त चेतावनी दी जा रही है। सरकार ने जानबूझकर या तीनों उपचुनाव देरी से करवाए जिससे वह सत्ता के दम पर चुनाव को प्रभावित कर सकें।

विश्व चक्षु ने कहा कि सरकार द्वारा सिर्फ ठेकेदार और कर्मचारियों को ही नहीं चुने हुए जनप्रतिनिधियों को भी परेशान किया जा रहा है। चाहे पंचायत प्रधान हो या बीडीसी मेंबर या जिला परिषद के सदस्य, सभी को सख्त हिदायत दी गयी है कि उनके क्षेत्र से यदि भारतीय जनता पार्टी को बढ़त मिली तो व अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे।

उन्हें हर हाल में कांग्रेस को समर्थन देने के लिए बाध्य किया जा रहा और तरह-तरह से प्रताड़ित किए जाने की धमकी दी जा रही है। आज तक इस प्रदेश में ऐसा कभी नहीं हुआ जब समर्थन के लिए सरकार द्वारा चुने हुए प्रतिनिधियों को भी डराया धमकाया जाए।

प्रदेश में पहले भी चुनाव हुए हैं लेकिन जिस तरह से कांग्रेस सत्ता का दुरुपयोग कर रही है ऐसा उदाहरण आज तक देखने को नहीं मिला है। इसके अलावा प्रदेश सरकार ने माफिया को  भी खुली छूट दे रखी है कि वह भाजपा से जुड़े लोगों को डराए धमकाए और भाजपा को समर्थन न देने के लिए बाध्य करें।

विश्व चक्षु ने कहा कि लोकसभा की हार से बौखलाई कांग्रेस चाहे जो कर ले, प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को नकार दिया है। सरकार चाहे जितना ज़ोर लगा ले लेकिन भाजपा जनता जनार्दन के आशीर्वाद स्नेह और सहयोग से तीनों सीटों पर भारी मतों से जीत हासिल करेगी। मुख्यमंत्री के सारे जतन अब बेकार जाएंगे क्योंकि डेढ़ साल के कार्यकाल में उन्होंने जनहित के एक भी काम नहीं किए।

प्रदेश के लोग कभी भी अस्पतालों और स्कूलों आप को बंद करने वाली सरकार के साथ नहीं खड़ी हो सकती। कांग्रेस का भांडा पूरी तरीके से फूट चुका है। जनता की नज़रों में यह सरकार गिर चुकी है। विधानसभा में भाजपा का संख्याबल बढ़ने से भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस सरकार की तानाशाही पर नकेल लगाएगी और जनहित से जुड़ें फ़ैसले लेने से रोकेगी। भाजपा के 30 विधायक कांग्रेस सरकार को जनहित के फैसले लेने के लिए बाध्य करेगी और सरकार की तानाशाही का अंत करेगी।

Scroll to Top