अहंकार में होशियार की बुद्धि हुई भ्रष्ट, अब देहरा का भाग्योदय निश्चित : सीएम



डेढ़ साल में 28 हजार से अधिक सरकारी नौकरियाँ निकाली, भर्ती प्रक्रिया शुरू

मुख्यमंत्री ने देहरा विधानसभा क्षेत्र में अनेक स्थानों पर नुक्कड़ सभाएं की

देहरा। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शुक्रवार को देहरा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत अनेक स्थानों पर प्रचार किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार ने लगभग अपने डेढ़ साल के कार्यकाल में 28000 से अधिक सरकारी नौकरियां निकाली हैं, जिनकी भर्ती प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

इनमें शिक्षा विभाग में अध्यापकों के 5291 पद, जल शक्ति विभाग में विभिन्न श्रेणियों में दस हज़ार पद, वन विभाग में वन मित्रों के 2061 पद, स्वास्थ्य विभाग में विभिन्न श्रेणियों में 1450 पद, पटवारियों के 874 पद, पुलिस कांस्टेबलों के 1226 पद शामिल हैं।


उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर ने अपने पाँच वर्ष के कार्यकाल में केवल 20000 नौकरियां ही सरकारी क्षेत्र में निकालीं, जिनमें से ज़्यादातर क़ानूनी दाँव पेच में फँस गई थी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पुलिस भर्ती में महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया है और सभी अभ्यर्थियों को अधिकतम आयु में एक वर्ष की छूट प्रदान की है।

उन्होंने कहा कि कैबिनेट बैठक में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के तहत व्यापक प्रारंभिक बाल्य देखभाल और शिक्षा कार्यक्रम आरंभ करने के लिए 6297 प्रारंभिक देखभाल और शिक्षा ट्यूटर की भर्ती को हरी झंडी दी गई है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में सरकारी क्षेत्र में और अधिक नौकरियां निकाली जाएंगी तथा भर्तियों में मैरिट एवं पारदर्शिता सुनिश्चित की जाएगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के पिछले पाँच वर्ष के कार्यकाल में शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी गिरावट आई है और गुणात्मक शिक्षा के मामले में हिमाचल प्रदेश देशभर में 18वें स्थान पर पहुँच गया है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार राज्य में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए प्रयासरत हैं और स्कूलों में आधारभूत सुविधाएँ बढ़ाने की दिशा में अनेकों क़दम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में ही विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए राज्य सरकार चरणबद्ध तरीक़े से राजीव गांधी डे बोर्डिंग स्कूल खोल रही है, जहाँ पर विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया जाएगा।
पूर्व विधायक होशियार सिंह पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी अपनी विधायकी से यूँ ही इस्तीफ़ा नहीं देता।

उन्होंने कहा कि अहंकार और पैसे के लालच में होशियार सिंह ने जनभावनाओं का सौदा कर अपने विधायक पद को बेचा है। धन के प्रभाव में आकर होशियार सिंह की बुद्धि भ्रष्ट हुई, लेकिन यह देहरा के भाग्योदय का वरदान बनेगा। उन्होंने कहा कि अच्छा हुआ निर्दलीय विधायक ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया और अब देहरा में भरपूर विकास होगा, जिसकी शुरुआत हो चुकी है। देहरा में पुलिस अधीक्षक कार्यालय तथा एसई (लोक निर्माण विभाग) का कार्यालय भी खोला जाएगा, जिसकी अधिसूचना चुनाव के बाद जारी की जाएगी।


ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि सत्ता में आने के बाद से ही कांग्रेस सरकार ने राज्य के संसाधनों की लूट को बंद करने के लिए प्रयास किए और एक वर्ष में ही 2200 करोड़ रुपए का अतिरिक्त राजस्व प्राप्त किया है।

उन्होंने कहा कि इंदिरा गाँधी प्यारी बहना सुख सम्मान निधि योजना के अंतर्गत प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु की पात्र महिलाओं को प्रतिमाह 1500 रुपये पेंशन प्रदान कर रही है और इस योजना के तहत अब तक तीन किश्तों के 4500 रुपए वितरित किए जा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार डॉ. वाई एस परमार विद्यार्थी ऋण योजना के अंतर्गत गरीब विद्यार्थियों को एक प्रतिशत ब्याज की दर पर 20 लाख रुपये का कर्ज़ उच्च शिक्षा के लिए उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त अनाथ बच्चों की देखभाल तथा उनकी शिक्षा के लिए मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना आरंभ की है और चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट के रुप में अपनाया है।

उन्होंने कहा कि विधवा महिलाओं के 27 वर्ष के बच्चों की उच्च शिक्षा का खर्च भी राज्य सरकार ही वहन कर रही है। गाय का दूध 45 रुपए और भैंस का दूध 55 रुपए प्रति लीटर की दर से ख़रीदा जा रहा है और प्राकृतिक खेती से पैदा होने वाले गेहूं को 40 रुपए तथा मक्की को 30 रुपए प्रति किलो की दर से ख़रीदा जाएगा।


इस अवसर पर मुख्य संसदीय सचिव आशीष बुटेल तथा विधायक भुवनेश्वर गौड़, पूर्व विधायक सतपाल रायज़ादा, हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष नरदेव सिंह कंवर, मंडल अध्यक्ष पुष्पेंद्र ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Scroll to Top