भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनी डोहग देहरियां की काजल को उपमंडलाधिकारी ज्वालामुखी संजीव शर्मा ने मां ज्वालामुखी की स्मृति देकर किया सम्मानित









मिलाप कौशल/खुंडियां




उपमंडल ज्वालामुखी के तहत गाँव घरुन ड़ोहग देहरियां की बेटी काजल ने भारतीय सेना में शार्ट सर्विस कमीशन पास करके मिलिट्री ऑफिसर बनी है। अब काजल 2 जून 2024 को बंगलौर एयरफोर्स कमांड हॉस्पिटल में लेफ्टिनेंट के पद पर अपनी सेवाएं देगी। उपमंडलाधिकारी ज्वालामुखी डॉ संजीव कुमार ने काजल को भारतीय सेना में शॉर्ट सर्विस कमीशन पास करने पर लेफ्टिनेंट बनने पर अपने कार्यालय में माता ज्वालाजी की स्मृति भेंट करके समानित किया।

डॉ संजीव कुमार ने बताया कि काजल के पिता सुदेश शर्मा राजस्व विभाग में पटवारी के पद पर ज्वालामुखी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं तथा माता कुशलता स्वास्थ्य विभाग में महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता के पद पर उप स्वास्थ्य केन्द्र कुण्दलीहार ने अपनी सेवाएं दे रही है। इनके एक ही बेटी है और एक छोटे से गावँ की इस बेटी ने पूरे उपमंडल ज्वालामुखी का नाम रोशन कर दिया।

उन्होंने बताया कि काजल के लेफ्टिनेंट बनने से इस उपमंडल की अन्य बेटियों को इससे प्रेरणा मिलेगी कि यदि मेहनत करे तो हम कभी भी अपना सपना पूरा कर सकते है और बड़े से बड़े कमीशन पास करके अपना और अपने माता पिता का नाम रोशन कर सकते है। उपमंडलाधिकारी ज्वालामुखी डॉ संजीव ने काजल को मार्गदर्शन देते हुए कहा कि लेफ्टिनेंट के पद पर जॉइन करने के बाद भी सिविल सर्विस के कमीशन देते रहे।ताकि इससे भी अच्छी सर्विस प्राप्त करके लोगों की सेवा कर सके।

Scroll to Top