सीपीआई (एम) की जोगिंदर नगर लोकल कमेटी ने मंडी लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह के समर्थन में चुनाव प्रचार को धार देते हुए पिछले कल कई स्थानों पर गाँव स्तर की बैठकें आयोजित की।




सीपीआई (एम) ने जबर्दस्त तैयारी के साथ बैठकें आयोजित की जिसमें बड़ी संख्या में सीपीआईएम व किसान सभा कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। पसल, टिकरी मुशैहरा व भडयाड़ा पंचाटों में आयोजित इन बैठकों में कांग्रेस के स्थानीय नेता भी शामिल हुए। गठबंधन प्रत्याशी के पक्ष में आयोजित इन बैठकों को काँग्रेस के राज्य महासचिव पूर्व विधायक सुरेन्द्र पाल, सीपीआई (एम) के राज्य सचिवालय सदस्य कुशाल भारद्वाज, माकपा के लोकल कमेटी सचिव रविंदर कुमार, माकपा नेत्री एवं बीडीसी सदस्य नीलम वर्मा, काँग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार, जिला उपाध्यक्ष गुरुशरण परमार ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर कुशाल भारद्वाज ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि देश में लोकसभा के जो चुनाव हो रहे हैं, उसमें मुकाबला दो गठबंधनों के बीच है। एक गठबंधन का नाम एनडीए है जो भाजपा और कई अन्य पार्टियों का है, तो वहीं दूसरे गठबंधन का नाम इंडिया है जो कांग्रेस, सीपीआई(एम), आम आदमी पार्टी और कई अन्य पार्टियों का है।  गठबंधन की पार्टियां आपस में तालमेल करते हुए चुनाव लड़ रही हैं तथा गठबंधन में जिस पार्टी को जो सीट मिली है, उसे गठबंधन की अन्य पार्टियों भी सपोर्ट कर रही हैं। मंडी लोकसभा सीट से इंडिया गठबंधन की तरफ से कांग्रेस नेता विक्रमादित्य सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है। इसलिए इंडिया गठबंधन में शामिल मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी व अन्य पार्टियां भी उनके पक्ष में चुनाव प्रचार कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का 10 वर्ष का कुशासन से जनता तंग आ चुकी है। देश में जो बदलाव की लहर चल रही है उसमें जोगिंदर नगर की जनता भी अपनी भूमिका निभाते हुए विक्रमादित्य सिंह को भारी मतों की लीड दिलवाना आज समय की जरूरत है।


उन्होंने कहा कि भाजपा ने देश के युवाओं को हर साल दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था, लेकिन बदले में बेरोजगारी व कुंठा की अंधी खाई की ओर इस देश की जवानी को धकेल दिया है। सेना में अग्निवीर योजना थोंप कर लाखों युवाओं के सपनों को चकनाचूर किया है।  पूँजीपतियों को के पक्ष में सब नीतियाँ बन रही हैं। किसानों के साथ तो मोदी सरकार ने दुश्मन नंबर एक की तरह ही व्यवहार किया है। भाजपा इस देश के संसदीय लोकतन्त्र को खत्म करना चाहती है। इसके लिए वह देश के संविधान को भी खत्म कर कमजोर तबकों के आरक्षण तथा सामाजिक सुरक्षा पेंशन सहित विभिन्न कलयांकारी योजनाओं को खत्म करना चाहती है। 



वहीं पूर्व विधायक सुरेन्द्र पाल ने कहा कि भाजपा हर मोर्चे पर फेल हुई है तथा जो ऊमीद्वार उन्होंने उतारी है उनको न राजनीति की समझ है और न ही जनता के मुद्दों से सरोकार है। उन्होंने कहा कि विक्रमादित्य सिंह युवा तो हैं ही, साथ ही उन्हें राजनीति का खूब ज्ञान है तथा जनता के मुद्दों की समझ भी है और उनके हल के लिए कडा परिश्रम भी वे करते हैं। उन्होंने कहा कि यदि विक्रमादित्य सिंह को भारी अंतर से जीत मिलती है तो जोगिंदर नगर सहित समस्त लोक सभा क्षेत्र का भला होगा। कंगना तो चुनाव के बाद फिर से मुंबई में फिल्मों में व्यस्त हो जाएंगी।

उन्होंने कहा कि कई वर्षों से जोगिंदर नगर में भाजपा के ही एमएलए रहे हैं और भाजपा ने जोगिंदर नगर के विकास के लिए कभी काम नहीं किया। ठाकुर सुरेन्द्र पाल ने माकपा नेता कुशाल भारद्वाज सहित सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं का धन्यवाद किया कि वे गठबंधन के प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह की जीत सुनिश्चित करने के लिए जीन जान से काम कर रहे हैं। उन्होंने सभी से अपील की कि गठबंधन एवं कांग्रेस के लोकप्रिय उम्मीदवार को भारी मतों से जिताएं।

Scroll to Top