तुम्हारे पैरों तले जमीन नहीं जिसका सुक्खु सरकार को यकीन नहीं: विपिन सिंह परमार


परमार बोले कांग्रेस सरकार जमकर उड़ा रही आचार संहिता की धज्जियां

अपने ही बोझ तले दब जाएगी कांग्रेस सरकार*

देहरा/धर्मशाला, जुलाई 05, 2024

देहरा उपचुनाव में भाजपा के प्रभारी विपिन सिंह परमार ने कहा है कि देहरा में कांग्रेस ने अपनी हार मान ली है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सरकारी मशीनरी के साथ साथ हेलीकॉप्टर का दुरुपयोग कर रहे हैं।

परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री के कार्यालय से आशा वर्करों को व्हाट्सएप ग्रुप में मैसेज देकर बुलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव आचार संहिता की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। भाजपा ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से कर दी है। उन्होंने कहा कि सरकार अधिकारियों और कर्मचारियों पर दबाव बनाने की बजाए मुद्दों के ऊपर चुनाव लड़े। 

विपिन परमार ने कहा है कि कांग्रेस की चमक फीकी पड़ चुकी है जिसके चलते मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू बौखलाहट में है। परमार ने कहा कि होशियार धरतीपुत्र हैं जनता ने दो बार उन्हे निर्दलीय जिताया है लेकिन कांग्रेस को बाहर के उम्मीदवारों के सहारे चलना पड़ रहा है।

विपिन परमार ने कहा कि कांग्रेस ने पहले लोकसभा चुनावों में कांगड़ा-चंबा लोकसभा के लिए दिल्ली से प्रत्याशी बुलाया और देहरा उपचुनाव के लिए हमीरपुर से प्रत्याशी देना पड़ा। परमार ने कहा कि क्या कांग्रेस के पास देहरा के 80 हजार मतदाताओं में कोई ऐसी महिला नहीं थी जिसे कांग्रेस चुलाव लड़ाती। परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री की पत्नी को चुनाव लड़ने की क्या जरूरत थी।

भाजपा नेता ने कहा कि लोकसभा चुनावों में मुख्यमंत्री को नादौन के लोगों ने इन्हे नकार दिया है देहरा की जनता भी इन्हे नकार देगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जिन लोगों को सरकार चलाने का अनुभव नहीं वह हिमाचल को अपने तरीके से चलाना चाहते हैं।

परमार ने सवाल पूछते हुए कहा कि  मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी के अलावा कमलेश ठाकुर की कौन सी योग्यता है जिसके बलबूते वह चुनाव लड़ रही हैं। उन्होंने कहा कि देहरा के लोग स्वाभिमानी है तो वह अपने हितों की रक्षा करना जानते हैं और राजतंत्र जन शक्ति के आगे टिकने बाला नहीं है। कांग्रेस हाईकमान ने हार के कारणों के लिए कमेटी गठित की है आने वाले समय में कांग्रेस अपने ही बोझ तले दबने बाली है।

मुख्यमंत्री और मंत्री अपना रहे नए-नए हथकंडे : राकेश जंबाल

देहरा उपचुनाव में भाजपा के संयोजक व सुंदरनगर के विधायक राकेश जमवाल ने कहा है कि मुख्यमंत्री उनके मंत्री और अधिकारी हार को देखते हुए नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार कर्मचारियों पर कांग्रेस का साथ देने के लिए दबाव बना रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने काम किया होता तो आज यह नौबत नहीं आती। राकेश जमवाल ने कहा कि सरकार पंचायती राज से जुड़े जन प्रतिनिधियों को डरा धमका रही है और उनके परिवार जनों को स्थानांतरित किया जा रहा है।

Scroll to Top