सुक्खू सरकार का शासन बैसा ही जैसा हिटलर के समय में था: पवन काजल



कहा सुक्खू ने प्रदेश को विकास की और नही विनाश की और मोड़ा

*देहरा, 1 जुलाई पूजा सूद

देहरा विधानसभा उपचुनाव के भाजपा सह-संजोयक व कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक पवन काजल ने मंख्यमंत्री सुक्खू की तुलना हिटलर से करते हुए कहा कि सुक्खू सरकार का शासन उसी प्रकार से है जैसा की हिटलर के समय का था।

सोमवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि नौ विधान सभाओं में हुए पहले उनचुनावों में सुक्खू सरकार ने पुलिस बल के द्वारा लोगों को डराने का काम किया। धर्मशाला को सुक्खू ने छाबनी में तबदील कर दिया था। सुधीर शर्मा के घर की और आने जाने वाले रास्तों तें पुलिस के नाके लगवा दिया गए थे।

रात को पुलिस की फोज गस्त कर लोगों के दिलों में दहशत फलाने में उतारु थी, मगर सुक्खू जनता की आवाज को दबा नही सके। पवन काजल ने कहा कि औरों को डर दिखाकर शासन करने वाली सुक्खू टोली खुद खौफजदा होती नजर आएगी। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू को देहरा के विकास का नही अपनी पत्नी की जीत की चिंता सता रही है।

सुक्खू ने प्रदेश को  विकास की और नही विनाश की और मोड़ दिया है, जिका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ गया है। आरोप लगाया कि पिछले डेढ साल में केन्द्र की ओर से भेजे गए धन का सुक्खू सरकार ने उपयोग नहीं किया। इसके अलावा राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है।

जंगलराज कायम है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठने के बाद सुक्खू जिस अहंकार के साथ काम कर रहे हैं, यह खेल ज्यादा दिनों तक चलने वाला नही है। उन्होंने कहा जनता देख रही है सुक्खू कर क्या रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देहरा से कांग्रेस के पूर्व प्रत्याशी राजेश शर्मा ने सुक्खू पर जो आरोप लगाए हैं, वे देहरा में भी चत होते नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री सुक्खू ने देहरा में भी दहशत का माहौल पैदा कर दिया है ताकि जनता उनकी पत्नी के हक में वोट करे। पवन काजल ने कहा कि भाजपा प्रत्याशी होशियार सिंह पहले भी देहरा की जनता के दिलों में रहे हैं तथा अब भी वे उनके दिलों में हैं। उन्होंने कहा देहरा की जनता इस उपचुनाव में सुक्खू सरकार आईना दिखाने के लिए तैयार बैठी हुई है।

Scroll to Top