हमीरपुर में होने वाले उपचुनाव में लोगों की पसंद बना प्रशासनिक अधिकारी



वर्तमान में जिला कांगड़ा में बतौर उप मंडल अधिकारी पद पर दे रहा सेवाएं

हमीरपुर/ब्यूरो

हमीरपुर सदर सीट पर विधानसभा उपचुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में लोगों की पहली पसंद एक प्रशासनिक अधिकारी बना हुआ है हमीरपुर का रहने वाला यह अधिकारी बेहतरीन कार्य प्रणाली बेहतरीन कार्य कुशलता के साथ साथ जनता से जुड़ा हुआ है ।

प्रदेश मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में भी अधिकारी के रूप में अपनी सेवाएं दे चुका है ऐसे में हमीरपुर की जनता चाहती है कि इस अधिकारी को मौका मिले और उन्हें जीत दिलाकर मुख्यमंत्री को और मजबूत किया जाए  इस बार के उपचुनाव मे मुख्यमंत्री सुक्खविंदर सिंह सुक्खू के गृह जिला की सीट पर मुकाबला जबरदस्त होने वाला है।

क्योंकि इस बार यहाँ से कांग्रेस पार्टी की टिकट पर मुख्यमंत्री सुक्खविंदर सिंह सुक्खू के करीबी व वर्तमान में हिमाचल प्रसाशनिक सेवा मे तैनात एक अधिकारी के चुनाव लड़ने की चर्चा भी जोरों पर हैं। पार्टी के पुराने व युवा पदाधिकारी भी इस प्रशानिक अधिकारी को चुनाव लडा़ने के पक्ष मे अपनी सहमति प्रकट कर चुके है सबसे बड़ी बात ये भी है कि इस प्रशासनिक अधिकारी का संबध हमीरपुर से है।

वर्तमान मे ये अधिकारी जिला कांगड़ा में बतौर उपमंडल अधिकारी के रूप में अपनी सेवाएं दे रहा है उक्त अधिकारी के अनुभव की बात करे तो वर्ष 2001 से ग्रामीण विकास विभाग मे नौकरी लगने के बाद इस अधिकारी ने एसबीपीओ सहित विभिन्न 8 जिलों मे बीडीओ के रूप मे तथा जिला चम्बा व ऊना मे डीआरडीए में बतौर परियोजना अधिकारी के रूप में बेहतरीन काम किया है ।

गत वर्ष ही ये अधिकारी हिमाचल प्रशाशनिक सेवा मे शामिल हुए हैं इस अधिकारी के पास आम जनता की समस्याओं को समझने व उनके उचित निवारण व सरकारी योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने का अच्छा अनुभव है अधिकारी की खेलों विशेषकर क्रिकेट मे भी काफी रूची है ।

पिछले लगभग 30 वर्षों से भी अधिक समय मे तीन बार राष्ट्र स्तरीय जूनियर क्रिकेट प्रतियोगिता मे प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर चुका है व वर्तमान मे गाँव मे एक अकैडमी भी चला रहा है जिसमे नए प्रतिभाशाली खिलाड़ी उभर कर आ रहे हैं। वहीं अगर बात करें तो उक्त प्रशानिक अधिकारी मुख्यमंत्री ठाकुर सुक्खविंदर सिंह की नीतियों से काफी प्रभावित हैं।

दूसरी ओर मुख्यमंत्री सुक्खविंदर सिंह सुक्खू भी व्यक्तिगत रूप से इस अधिकारी से परिचित है। पूर्व मे कांग्रेस पार्टी से ही ताल्लुक रखने वाले उनके पिता भी हमीरपुर नगर परिषद मे पार्षद रह चुके है।

ऐसे में जनता इस अधिकारी को विधायक के रूप में देखना चाहती है ताकि इलाके का संपूर्ण विकास हो सके और इस अधिकारी की जीत के साथ मुख्यमंत्री हमीरपुर जिला में और मजबूत होगे  ऐसा भी कहा जा रहा है कि अगर यह अधिकारी जीत दर्ज करता है तो मुख्यमंत्री को हमीरपुर जिला का एक अच्छा व्यक्ति उनके साथ चलेगा जो हमीरपुर जिला का संपूर्ण विकास करवाने लोगों की समस्याओं का समाधान करवाने की पूरी क्षमता रखता है ।

Scroll to Top