कांग्रेस प्रत्याशी का रोड शो फिर चर्चाओं के घेरे में



विपुल गुप्ता, सुजानपुर, न्यूज़ हिमाचल 24

भीड़ इकट्ठी करने में कांग्रेस प्रत्याशी फिर हुए फेल

सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव के लिए चुनाव मैदान में उतरे कांग्रेस प्रत्याशी कैप्टन रंजीत सिंह का सुजानपुर बाजार में डोर टू डोर संपर्क अभियान फिर से चर्चाओं के घेरे में आ गया है कांग्रेस प्रत्याशी के इस संपर्क एवं रोड शो के दौरान स्थानीय लोगों के साथ-साथ अपनी पार्टी के कार्यकर्ता भी शामिल नहीं हुए जो अपने आप में सबसे बड़ा सवाल बन गया है यह बात भाजपा मण्डल अध्यक्ष विक्रम राणा ने कही।

कांग्रेस प्रत्याशी के रोड शो में भाजपा प्रत्याशी के मुकाबले कार्यकर्ता इकट्ठे क्यों नहीं हुए यह बात पूरे शहर में चर्चा का विषय बनी हुई है बताते चलें कि कांग्रेस प्रत्याशी इससे पहले भी अपने चुनाव नॉमिनेशन के दौरान चर्चाओं में आए थे क्योंकि नॉमिनेशंस के समय भी कांग्रेस प्रत्याशी के साथ कोई बड़ा नेता मौजूद नहीं हुआ था और ना ही उस दिन कोई जनसभा उनके पक्ष में आयोजित की गई थी ऐसे में मंगलवार को कांग्रेस प्रत्याशी का सुजानपुर बाजार में डोर टू डोर संपर्क एवं रोड शो पूरी तरह फीका रहा क्योंकि इसमें कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों की संख्या नाम मात्र थी रोड शो में केवल वही लोग मौजूद थे जो कांग्रेस प्रत्याशी के हर कार्यक्रम में सबसे आगे बैठे हुए देखे जा सकते हैं  ।

कांग्रेस प्रत्याशी के रोड शो में सुजानपुर ब्लॉक कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ता एवं स्थानीय लोगों को इकट्ठा क्यों नहीं कर पाई यह बात भी चर्चा का विषय बनी हुई  है और ऐसा भी नहीं है कि यह रोड शो तत्काल रखा गया हो इस रोड शो और संपर्क अभियान के लिए एक दिन पहले ही सूचना जारी कर दी गई थी लेकिन उसके बावजूद कांग्रेस प्रत्याशी के साथ अपनी पार्टी के लोग और स्थानीय जनता साथ क्यों नहीं आई ये बात कांग्रेस ओर प्रदेश मुख्यमंत्री के लिए चिंता का विषय है ।

बात भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र राणा की करें तो उन्होंने भी 17 मई शुक्रवार को सुजानपुर बाजार में डोर टू डोर संपर्क अभियान रोड शो निकला था और इस दौरान उन्होंने शक्ति प्रदर्शन करते हुए अपने साथ भारी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता और स्थानीय लोगों को इकट्ठा किया था और ढोल नगाड़ों के साथ लोगों से आशीर्वाद लेने के लिए पहुंचे थे बात अगर राजेंद्र राणा के नॉमिनेशन की करें तो उन्होंने नॉमिनेशन वाले दिन भी विशाल जनसभा आयोजित करके विरोधी खेमे को सोचने पर मजबूर कर दिया था और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अगवाई में विशाल जनसभा को संबोधित करने के बाद नॉमिनेशन प्रक्रिया को पूरा किया था।

शहर में अब चर्चा यह हो रही है की कांग्रेस प्रत्याशी के साथ उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ता  खुलकर क्यों नहीं चल रहे, कांग्रेस प्रत्याशी के नॉमिनेशन के दौरान जनसभा का आयोजन क्यों नहीं किया गया और उससे भी बड़ी बात मुख्यमंत्री नॉमिनेशन वाले दिन जिला मुख्यालय में मौजूद थे उसके बावजूद व अपने प्रत्याशी का नॉमिनेशन करवाने सुजानपुर क्यों नहीं आए, तमाम बातों पर सवाल उठना प्रारंभ हो गए हैं, सुजानपुर शहर में मंगलवार को कांग्रेस प्रत्याशी के ड़ोर टू डोर संपर्क अभियान में उनकी पंचायत के एक दो लोगों को छोड़कर बाकी सारी जनता गेर हाजिर थी। यही हाल ब्लॉक कांग्रेस के पदाधिकारीयो का था।

Scroll to Top