नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायत के सेवानिवृत कर्मचारी संशोधित पेंशन को तरसे



सरकार और विभाग को सुनाई खरी खोटी

विपुल गुप्ता, सुजानपुर, न्यूज़ हिमाचल 24

शहरी विकास विभाग और प्रदेश की सरकार गहरी निंद्रा में सोई हुई है यह कहना नगर निगम नगर परिषद व नगर पंचायत से सेवानिवृत हुए कर्मचारियों का है सेवानिवृत कर्मचारियों ने कहा कि शहरी विकास विभाग में कार्यरत अधिकारी व कर्मचारी सचिव शहरी विकास विभाग निदेशक शहरी विभाग से सेवानिवृत कर्मचारियों को संशोधित पेंशन वर्ष 2022 में जारी कर दी गई थी परंतु नगर निगम नगर परिषद व नगर पंचायत से सेवानिवृत हुए कर्मचारियों को संशोधित पेंशन जारी करने के मामले में शहरी विकास विभाग व हिमाचल प्रदेश सरकार गहरी निंद्रा में सोई हुई है ।

सेवानिवृत कर्मचारियों में राजकृष्ण शर्मा बालक राम रमेश कुमार राकेश कुमार जगपाल ठाकुर मनोज गुप्ता राम सिंह विनोद कुमार आदि ने आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारियों ने जब अपने लिए लाभ लेने हो तो किसी अधिसूचना का इंतजार नहीं किया जाता है परंतु सेवा निवृत कर्मचारियों को लाभ देने की बात हो तो अधिसूचना का इंतजार किया जाता है उन्होंने याद दिलाते हुए कहा कि पूर्व विधायक द्वारा भी संबंधित विषय पर विधानसभा में मामला उठाया गया था तो मुख्यमंत्री द्वारा कहा गया कि मामला विचारधीन है परंतु बड़े खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि मामला 2022 से अभी तक विचारधीन ही चल रहा हैl

जबकि सरकार द्वारा कोई अतिरिक्त राशि जारी नहीं करनी है नगर निगम नगर परिषद व नगर पंचायत ने अपनी आय से ही संशोधित पेंशन देनी होती है जिस बारे शहरी विकास विभाग को लिखित रूप में भी नगर परिषद नगर निगम पर नगर पंचायत ने दिया है सेवानिवृत कर्मचारी शहरी विकास विभाग हिमाचल प्रदेश सरकार से अनुरोध करते हैं कि शीघ्र नगर निगम नगर पंचायत व नगर पंचायत के सेवानिवृत कर्मचारियों को संशोधित पेंशन जारी की जाए ताकि उन्हें भी की गई नौकरी का पूरा लाभ मिल सके अन्यथा सेवानिवृत कर्मचारी आने वाले समय में इस विषय पर आक्रामक रूप अपनाएंगे ।

Scroll to Top