मुख्यमंत्री के तूफ़ानी दौरे ने की कैप्टन रंजीत की राह आसान



विपुल गुप्ता, सुजानपुर, न्यूज़ हिमाचल 24

प्रदेश मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खु का सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र का एकदिवसीय दौरा जहां कांग्रेस प्रत्याशी कैप्टन रंजीत सिह की जीत के लिए बड़ा काम कर गया है वहीं मुख्यमंत्री की आयोजित जनसभाओं में उमड़ी भारी भीड़  विरोधी पक्ष के लिए चिंता का विषय बनी है। जिस तरह से विधानसभा क्षेत्र की जनता ने  दलगत राजनीति से ऊपर उठकर मुख्यमंत्री का स्वागत  किया है वो इंगित करता है कि इस बार सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र की जनता मुख्यमंत्री को गबाना नहीं चाहती बल्कि सुजानपुर के ऊपर मुख्यमंत्री को पूर्व में गंवाने  के लगे दाग को  मिटाना चाहती है।

प्रदेश मुख्यमंत्री शुक्रवार को सुजानपर विधानसभा क्षेत्र के एकदिवसीय दौरे पर थे । इस दौरान मुख्यमंत्री ने छह अलग-अलग पंचायतों में पहुंचकर लोगों से मुलाकात की तथा आयोजित जनसभाओं को संबोधित कर कांग्रेस प्रत्याशी के  लिए वोट देने की अपील की ।


मुख्यमंत्री ने पूर्व विधायक राजेंद्र राणा पर कड़े आरोप लगाए, कहा कि पूर्व विधायक को सम्मान नहीं चाहिए था बल्कि भाजपा का सामान से भरा अटैची चाहिए था। जन सेवा का ढोंग रचने वाले धन सेवा के लिए राजनीति कर रहे हैं , सुजानपुर की जनता के साथ विश्वासघात किया है।
यह भी कहा कि पूर्व विधायक उनके पास सुजानपुर के हित के लिए नहीं आते थे बल्कि निजी हित में अपना क्रशर लगवाने व अपने बन रहे होटल को सड़क बनवाने के लिए मेरे पास आते थे।

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल को राजनीतिक षडयंत्र के तहत हराया गया था तथा मुझे भी मुख्यमंत्री पद से हटाने के लिए बड़ा षडयंत्र रचा गया मगर इस वार षडयंत्र क़ामयाब नहीं हो  पाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के साढ़े तीन साल  के कार्यकाल में सुजानपुर की तक़दीर व तस्वीर बदल जाएगी।


सुजानपुर ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष राजेंद्र वर्मा ने बताया मुख्यमंत्री के एक दिवसीय दौरे के दौरान भाजपा के लोगों ने भी जगह जगह सड़कों पर आकर हार पहनाकर उनका स्वागत किया और मुख्यमंत्री पर भरोसा जताया । इस दौरान बहुत से लोगों व नव युवकों ने मुख्यमंत्री पर विश्वास जताते हुए कांग्रेस पार्टी का दामन थामा जिसमें तीन ग्राम पंचायतों जंदडु, बग़ेहडा और जोल पलाही के प्रधान भी शामिल रहे ।
वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री की बैठकें देर रात तक चली जिन के लिए लोगों ने देर रात तक इन्तज़ार किया।

Scroll to Top