हिमाचल किसान सभा का एक प्रतिनिधिमंडल क्षेत्र संबंधित लंबित मांगों को लेकर पहुंचा एसडीएम कार्यालय ।

Photo of author

By newshimachal24.com




किरण राही  /मंडी


सड़क ,पानी, बिजली तथा राजस्व विभाग से संबन्धित क्षेत्र की लंबित मांगों को लेकर हिमाचल किसान सभा के राज्य उपाध्यक्ष एवं जिला परिषद सदस्य कुशाल भारद्वाज के नेतृत्व में आज 5 गांवों अप्पर अंदराहलू लोअर अंदराहलू, टिककर, पलोहन व बसेहड़ के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने एसडीएम जोगिंदर नगर, लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी, अभियंता, विद्युत बोर्ड के अधिशाषी अभियंता, लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता तथा अन्य अधिकारियों से अलग-अलग मुलाक़ात की। इस अवसर पर विभिन्न मुद्दों पर ज्ञापन भी दिये तथा हर मुद्दे पर अधिकारियों से विस्तृत चर्चा भी की। इस प्रतिनिधिमंडल में सेवानिवृत जिला राजस्व अधिकारी नेक राम ठाकुर, विद्युत विभाग के सेवानिवृत सहायक अभियंता देवेन्द्र धरवाल, सेना से सेवानिवृत कैप्टन ठाकर सिंह, एचआरटीसी से सेवानिवृत इंस्पेक्टर लेख राज नेगी, आईटीबीपी से सेवानिवृत इंस्पेक्टर दीनानाथ धारनी, विद्युत विभाग से सेवानिवृत फोरमैन श्याम सिंह धरवाल, ठाकर सिंह भरेड़ी, सुशील धरवाल सोनू, संजय कुमार, भागमल,देवी सिंह, भोमा देवी, बबली देवी, गीता देवी, हिमा देवी, सीमा देवी, नागो देवी, हल्ली देवी, ब्रहमी देवी, कंचना देवी, पूजा देवी के अलावा किसान सभा की गाँव कमेटियों के पदाधिकारी भी शामिल रहे।

लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता व सहायक अभियंता के साथ बैठक में उन्होंने भराड़ू- गलमाठा सड़क की फिर से टायरिंग करने तथा तुरंत प्रभाव से गड्ढे भरने की मांग की। इसके अलावा निचला अंदराहलू, पलोहन, बसेहड़, बतनाहर, कारंझ, चनेहड़, वीरधार आदि सड़कों की कंक्रीटिंग हेतु मनरेगा से पड़ी सेल्फों पर अढ़ाई साल बाद भी कोई काम न होने का कडा संज्ञान लिया तथा जल्दी इन सड़कों के लिए मटीरियल रिलीज़ करने की मांग की। इसके अलावा छाम्ब मनारु सड़क को नाबार्ड से स्वीकृत करने की भी मांग की गई। कुशाल भारद्वाज ने गड़ूही-भौरा कस सड़क की आधार में अटकी हरिजन बस्ती सड़क को भी तुरंत खोलने की मांग की। इसके अलावा निचला अंदराहलू नाले में कल्वर्ट डालने तथा क्षेत्र की संपर्क सड़कों की मुरम्मत हेतु जेसीवी भेजने की भी मांग की। अथराह नाला पर ट्रेफिक ब्रिज का निर्माण करने, बिहूं-कुण्ड-गलमाठा सड़क को गलमाठा तक पक्का करने तथा कुन का तर पुल का निर्माण करने की भी मांग की। अधिकारियों ने आश्वस्त किया कि उपरोक्त कार्यों को चरणवद्ध तरीके से जल्दी ही पूरा किया जाएगा। जेवीसी अगले कुछ दिनों में भेज दी जाएगी तथा नाले में अंदराहलू नाले में सड़क पर पाइप भी बिछा दिये जाएँगे। भराड़ू- गलमाठा सड़क पर फिलहाल जल्दी ही पैचवर्क करवा दिया जाएगा। कुन का तर पुल मंडी मण्डल के तहत आता है अतः इस मुद्दे को मंडी मण्डल के साथ उठाया जाएगा।


जलशक्ति विभाग के अधिशाषी अभियंता को दिये ज्ञापन और सहायक अभियंता कार्यालय में हुई बैठक के में सहमति बनी कि 2 साल से लंबित निचला अंदराहलू के पेयजल भंडारण टैंक का निर्माण कार्य यदि संबन्धित ठेकेदार जल्दी ही शुरू नहीं करता है काम वापस लेकर किसी और को काम आबंटित कर काम शुरू करवाया जाएगा। पहले भी उक्त ठेकेदार कोई विभाग कई नोटिस दे चुका है। अप्पर अंदराहलू के पेयजल भंडारण टैंक को इसी महीने पानी से जोड़ दिया जाएगा तथा टिक्कर नाले के जर्जर टैंक के स्थान पर तथा गलमाठा में भी नए टैंक के निर्माण हेतु जल्दी ही एस्टिमेट तैयार कर स्वीकृत करवाया जाएगा। बसेहड़ के टैंक की लीकेज को जल्दी ही ठीक किया जाएगा तथा इस पर सीढ़ी भी इसी महीने बनवाई जाएगी। अंदराहलू, टिक्कर, पलोहन बसेहड़, चौसी, बनोग व अन्य गांवों की गली सड़ी या संकरी पाइप लाइन को बदलने के लिए भी कार्य इसी महीने शुरू कर दिया जाएगा। जिला परिषद सदस्य के प्रस्ताव के अनुरूप बेंटलूनाला-धार उठाऊ पेयजल योजना के लिए नई मोटर खरीद ली है तथा एक और मोटर लाना प्रस्तावित है। जेजेएम स्कीम के तहत बन रही पेयजल योजनाओं को जल्दी ही पूरा कर दिया जाएगा तथा हर गाँव में पाइपलाइन बिछाने का काम भी आबंटित कर दिया है।

बिजली बोर्ड के अधिशाषी अभियंता से हुई बैठक में कुशाल भारद्वाज ने बेंटलूनाला धार योजना की मोटर चलाने हेतु रणाखड्ड के पार भरमेरा के पास स्थापित ट्रांसफार्मर को खड्ड के पार पम्प हाउस के पास शिफ्ट करने, अंदराहलू व बसेहड़ के संयुक्त ट्रांसफार्मर का लोड कम करने के लिए बसेहड़ में अलग से ट्रांसफार्मर लगाने अन्यथा पूरे गाँव को 3 फेस से जोड़ने की मांग की। इसके अलावा प्रतिनिधिमण्डल ने टिक्कर में लोगों द्वारा दान की गई भूमि पर बोर्ड का अनुभाग कार्यालय निर्मित करने हेतु एस्टिमेट बनाने तथा धनराशि उपलब्ध करवाने की भी मांग की है।

प्रतिनिधिमंडल ने एसडीएम महोदय के साथ भी मुलाक़ात की तथा पटवारखाने अंदराहलू के जर्जर भवन को गिराने तथा नया भवन बनाने की मांग की। कुशाल भारद्वाज ने कहा कि नया भवन बनने तक इस पटवारखाने को बिहूं या मनारू ले जाने के बजाए वहीं निजी भवन में चलाया जाये, जिसके लिए निजी भवन मालिक सूबेदार हेम सिंह धरवाल भी तैयार हैं। इससे इस पटवारखाने के दायरे में आने वाली जनता को अपने कार्यों के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा।

इस अवसर पर कुशाल भारद्वाज ने कहा कि कई दशकों से पूरे भराडू जिला परिषद वार्ड क्षेत्र की विकास के मामले में लगातार अनदेखी हुई है, लेकिन हमने सड़कों पर भी और जिला परिषद के अंदर भी इस अनदेखी के खिलाफ लगातार आवाज उठाई है जिससे मच्छयाल से लेकर बड़ीधार बह तक जनता की एकजुटता से कई लंबित काम करवाए भी हैं। क्षेत्र की अनदेखी के खिलाफ अब लोग भी हमारी आवाज के साथ आवाज मिला रहे हैं और उसके नतीजे भी सामने आ रहे हैं।

इस अवसर पर नेक राम ठाकुर, देवेन्द्र धरवाल, लेख राज नेगी, दीनानाथ धारनी ने कहा कि अपने जिला परिषद सदस्य कुशाल भारद्वाज लगातार जनता के मुद्दों को प्रमुखता से उठाते हैं तथा आज क्षेत्र के सभी प्रमुख लोग, किसान व महिलाएं उनके नेतृत्व में सभी अधिकारियों से मिले तथा हमें उम्मीद है कि सभी अधिकारियों ने जिस तरह से हमारी मांगों को सुना और उस पर तुरंत कार्यवाही का भरोसा दिलाया उस पर अमल भी होगा। उन्होंने कहा कि इससे पहले सार्वजनिक मुद्दों को इस तरह से कोई निर्वाचित प्रतिनिधि नहीं उठाता था। लेकिन अब क्षेत्र के लोग अपने इलाके के विकास के लिए एकजुट हें तथा जल्दी ही उपरोक्त मांगों व आश्वासनों पर अमल नहीं हुआ तो अब हम सब आंदोलन से भी पीछे नहीं हटेंगे।

Leave a Comment