10 साल से बगैर परमिट के चल रही थी HRTC बस।



अंशुल शर्मा।ब्यूरो।बिलासपुर

हिमाचल प्रदेश में राज्य परिवहन निगम की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। बिलासपुर जिला में एक एचआरटीसी बस पिछले 10 सालों से बिना परमिट के सड़कों पर दौड़ रही थी। लेकिन विभाग गहरी नींद में सोया हुआ था।


हैरानी की बात यह है कि बस में स्कूली व कॉलेज के बच्चों का आना-जाना लगा रहता था। ऐसे में यदि कोई बड़ा हादसा पेश आता तो इसका जिम्मेदार कौन होता? मामले में निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए जा रहे है।बता दें कि इस घटनाक्रम का पता चला जब बिलासपुर से गुरु का लाहौर रुट पर जाने वाली ये बस 2 दिन से रूट पर नहीं जा रही थी।

लोगों ने निगम के कर्मचारियों को फोन किया तो पता चला कि यह रूट एक दिन पहले बंद कर दिया गया है। कारण जानने का प्रयास किया तो खुलासा हुआ कि बस बिना परमिट के ही दौड़ रही थी। स्थानीय लोगों ने प्रदेश सरकार से एचआरटीसी की इस लापरवाही के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने की मांग की है।

जब इसके बारे में एचआरटीसी के आर एम  विवेक लखनपाल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस बस का कोई भी परमिट नहीं है। यह बस पिछले 10 सालों से ऐसे ही चल रही थी। इसलिए इस रूट को बंद कर दिया गया है।

Scroll to Top