शाडणु मेला गवाली में देव सूत्रधारी ब्रम्हा ने लोगों को दिया सुख समृद्धि का आशीर्वाद।




किरण /पधर (मंडी)।



रुहाड़ा क्षेत्र के आराध्य बड़ादेव देव सूत्रधारी ब्रम्हा सुराहण को समर्पित शाडणु मेला गवाली धूमधाम के साथ शुरू हुआ। देव रथ ने मेला में पधार कर अपने प्राचीन सह के पास पूजा अर्चना की। देव पाईंदल ऋषि सिलग द्रंग सिरा के रथ ने मेला में मेहमान देवता के रूप में शिरकत की और देव सूत्रधारी ब्रम्हा से मिलन कर सह के पास पूजा की।

देव सूत्रधारी ब्रम्हा के बड़ा गुर रोशन लाल और परमेश्वरी के गुर अकृत पटियाल ने देव खेल ली।बाद में दोनों देवताओं के रथ पुंदल गांव में मेला पंडाल पहुंचे। पंचायत प्रधान सुनील डोगरा ने दोनों देवताओं का पंचायत की ओर से स्वागत किया। मेला का शुभारंभ द्रंग कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष लेख राम ठाकुर ने की। उन्होंने दोनों देव रथों की पूजा की और आशीर्वाद प्राप्त किया। शाडणु मेला की लोगों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल देव भूमि के नाम से विख्यात है। आज भी यहां के देवी देवता मेलों सहित धार्मिक आयोजनों को संजोए हुए हैं। मेले आपसी भाईचारा बढ़ाते हैं और लोगों के लिए भी एक मंच पर सदभावना का माहौल मिलता है। उन्होंने देव संस्कृति को संजोए रहने में अहम भूमिका निभा रहे देव समाज से जुड़े कारकूनों का आभार प्रकट किया। उन्होंने मेला के सफल आयोजन के लिए अपनी ओर से मेला कमेटी को आर्थिक सहयोग राशि भेंट की। इस मौके पर सुरेश राव, पूर्व प्रधान कपूर चंद, अशोक शर्मा, पंचायत प्रधान सुनील कुमार डोगरा, देव सूत्रधारी ब्रम्हा मंदिर कमेटी के प्रधान पुजारी हलकू राम, बड़ागुर रोशन लाल, जोगणी माता गुर अंकृत पटियाल, पाईंदल ऋषि कमेटी अध्यक्ष प्रकाश चंद, उपाध्यक्ष रूप सिंह, गुर खेम सिंह ठाकुर, कांशी राम सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे। फोटो

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!